इतना फायदेमंद है फिर भी आप इसे क्यों नहीं खाते है




नमस्कार दोस्तों,  घरेलु नुस्खा में आपका स्वागत है। दोस्तों, आज जो मैं नुस्खा बताने जा रहा हूँ वो कई प्रकार के रोगों में फायदेमंद है क्योंकि इसमें न केवल विटामिन्स है बल्कि यह खनिजों का भंडार है। दोस्तों, इससे पहले मैंने कई बार किशमिश के खाने से होने वाले फायदे के बारे में बता रखा है लेकिन आज मैं आपको किशमिश कितना, कैसे और कब खाएं इसके बारे में बताऊंगा और इसके फायदे क्या है। इस सबके बारे में विस्तार से बताऊंगा।

कच्चा केला खाने के बाद जो हुआ जानकर हैरान हो जायेगे आप




दोस्तों किशमिश में फ्रक्टोस और ग्लूकोज़ भरपूर मात्रा में पाया जाता है। अतः इसका इस्तेमाल करके हम एक स्वस्थ जीवन पा सकते है। एथलीट अथवा खिलाडी को जबरदस्त शरीरिक ताकत की जरुरत होती है। ये ताकत किशमिश के खाने से मिल सकती है। दोस्तों बहुत सारे ऐसे लोग है जो थोड़ी सी देर में चलने पर थक जाते है, थोड़ी सी परिश्रम करने में हाफने लगते है और उनको थकान महसूस होने लगती है। ऐसे लोगों के लिए किशमिश के फायदेमंद फल है। किशमिश में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट विटामिन्स बी6, विटामिन के, आयरन, पोटेसियम, कैल्सियम, मैग्निसियम, सेलेनियम, एंटी ऑक्सीडेंट, फायटो केमिकल जैसे नाना प्रकार के खनिज पोषक तत्व पाए जाते है। जो हमारे शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होते है।

किशमिश एक ऐसा फल है जो शीघ्र ताकत प्रदान करता है। आइये जानते है किशमिश खाने के फायदे

दोस्तों, अक्सर ऐसे लोगों को कहते सुना है कि मीठा खाने से दांत ख़राब होता है। ऐसे  में किशमिश भी मीठा होता है तो इसके सेवन से दांत ख़राब हो सकता है लेकिन ऐसा नहीं है। किशमिश के खाने से दांत ख़राब नहीं होता है। बल्कि इसके सेवन से दांत और मसूढ़े मजबूत होते है। किशमिश में आलोनोलिक एसिड नामक फायटो केमिकल तत्व पाए जाते है जो दांतों के मसूढ़ों को कैबिटी से बचाता है। इसके साथ किशमिश मुंह में नुक्सान पहुंचाने वाले बैक्टीरिया को भी नष्ट करने में सहायक होते है।

ये मसूढ़ों में होने वाले इन्फेक्शन को भी दूर करता है साथ ही किशमिस में पाए जाने वाले कैल्सियम दांत के एनेमल को मजबूत बनाता है।

किशमिश में फायबर भरपूर मात्रा में पाई जाती है। जो सूखने के बाद सिकुड़ जाते है लेकिन जब यह पेट में जाता है तो पुनः अपने रूप में आ जाता है। किशमिश में घुलनशील और अघुलनशील दोनों प्रकार के फायबर पाए जाते है जिसके कारण कॉन्स्टिपेशन जैसी समस्या में बहुत फायदा मिलता है और दस्त में भी बहुत लाभदायक है।

इससे पेट और आँतों की अच्छी तरह से सफाई होती है। इसके सेवन से भोजन के पोषक तत्वों का अवशोषण सही तरीके से हो पाता है। अतः जिसे भूख न लगने की समस्या है वो किशमिश का सेवन अधिक से अधिक मात्रा में सेवन करें। इससे पाचन शक्ति मजबूत होती है और स्वास्थ्य अच्छा बना रहता है।

ब्लड प्रेशर में फायदेमंद है

इसमें पोटेसियम पाया जाता है जो उच्च रक्त चाप को नियंत्रित करने में सहायक है। इसके अलावा पोटेसियम दिल के लिए भी फायदेमन्द है। यह कोशिका, शरीर के अन्य अंगों जैसे टिशू को सही तरीके से कार्य करने में सहयक है।

स्ट्रोक के खतरे को दूर करता है

किशमिश के सेवन से स्ट्रोक जैसी समस्या दूर हो जाती है।

कैंसर में भी लाभदायक

किशमिश सहित सभी ड्राई फ्रूट में फेनोलिक तत्व पाए जाते है। जो एंटी ऑक्सीडेंट का काम करते है। दोस्तों, एंटी ऑक्सीडेंट एक ऐसे तत्व है जो कैंसर जैसी गंभीर बिमारियों को दूर करने में बहुत ही सहायक है।

खून की कमी को दूर करता है

दोस्तों, किशमिश में आयरन प्रचुर मात्रा में पाए जाते है। इसके अलावा किशमिश में विटामिन बी कॉम्पैक समूह के कई विटामिन्स पाए जाते है। जो खून बनाने में सहायक होता है। ये रक्त बनाने के साथ साथ रक्त को साफ़ करने में लाभकारी है।

आँखों की रोगों में फायदेमंद

दोस्तों, यदि किसी को आँखों की समस्या है तो वो किशमिश का सेवन कर सकते है क्योंकि इसमें विटामिन ए प्रचुर मात्रा में पाए जाते है जो बढ़ती उम्र के साथ होने वाले मोतियाबिंद जैसी बीमारी में लाभदायक है।

हड्डी में फायदेमंद है

दोस्तों, गर किसी को हड्ड़ी की प्रॉब्लम है या हड्डी कमजोर है तो उन्हें आज से ही किशमिश का इस्तेमाल कर देना चाहिए क्योंकि किशमिश में कैल्शियम पाए जाते है। इसके अलावा किशमिश में बोरोन नामक माइक्रो न्यूट्रिंट भी पाया जाता है जो हड्डी के निर्माण और पोषण के लिए जरूरी है। यह महिलाओं में मेनोपोज़ के कारण होने वाले ऑस्ट्रियों पोरोसिस को भी रोकने में सहायक है।

दोस्तों, अब जान लेते है कि किशमिश को कैसे खाएं। वैसे तो लोग किशमिश को ऐसे ही खा लेते है या फिर किसी चीज़ में मिलाकर खाते है लेकिन यदि हम इसे विधि पूर्वक खाएं तो यह दुगुना फायदा देगा।

इसके लिए करना क्या है

सोने से पहले रात में एक गिलास पानी में 4 से 8 किशमिश रख दें। अब इसे अगली सुबह को खाली पेट खा जाएँ और पानी को पी जाएँ। आप महसूस करेंगे कि किशमिश से दो गुना फायदा मिला है।

Hello friends, welcome to gharelu nuskha. Friends, what I am going to tell the remedy today is beneficial in many diseases because it is not contains only vitamins but it is a stock of minerals. Friends, I have told many times before about the benefits of eating raisins, but today I will tell you how much should eat raisins, how do eat and when do eat raisins and also i will tell you benefits of raisins.

Friends there are found in fructose and glucose in abundance in raisins. So, using it, we can get a healthy life. Athletes or players need tremendous physical power. These strengths can be found by eating raisins. There are many people who are tired of walking in a little. Raisins have beneficial results for such people. Various types of mineral nutrients are found in raisins   such as protein, carbohydrate vitamins B6, vitamins, iron, potassium, calcium, magnesium, selenium, anti oxidant, and photochemical. Which are extremely beneficial for our body?

Raisin is such a fruit which provides quick strength. Let us know the benefits of eating raisins

Friends, you have often heard people say that by eating sweet, the teeth become bad. In such a case, raisins are also sweeter, so it can make the teeth worse, but it is not so. By eating raisins, the tooth is not bad. Rather, the intake of teeth and gums strengthens it. Raisins contain a chemical element called alcoholic acid, which protects teeth gums from the cavity. With this, raisins help to destroy the bacteria that damage the mouth. It also removes infections of gums, its make teeth strong.

In the raisins, fiber is found in abundance. Which shrinks after drying, but when it goes into the stomach then it comes back in its form. Raisins are both soluble and insoluble fibers that can be very beneficial in problem like constipation and also very beneficial in diarrhea.

It cleanses the stomach and intestines well. Consumption of nutritious food from the food can be absorbed in the right way. Therefore, if there is an absence of hunger, then consume excessive amount of raisins. This strengthens digestive power and maintains good health.

Raisins is beneficial in Blood pressure

It contains potassium which is helpful in controlling high blood pressure. Apart from this, potassium is also beneficial for the heart. This cell is supported in other parts of the body such as tissue to function properly. Removes the risk of stroke

Also beneficial in cancer

Folic acid is found in all dry fruit including raisins. Those work as anti-oxidants. Friends, anti oxidant are an element that is very helpful in removing serious diseases like cancer.

Removes scarcity of blood

Friends, iron is abundant in raisins. Apart from this, many vitamins of Vitamin B Compaq Group are found in raisins. It is helpful in making blood it is beneficial to clean the blood along with blood circulation.

Beneficial in eye diseases

Friends, if someone has problems with eyes, then they can consume the raisins because Vitamin A is found in abundance in raisins which is beneficial in diseases like cataract, which is associated with increasing age.

Beneficial in bone

Friends, if someone has problems with bone or he has weak bone, then they should use raisins from today because calcium is found in raisins. Apart from this, raisins also contain a micro nutrition known as boron, which is essential for bone formation and nutrition.

Friends, now know how to eat raisins. By the way, people eat raisins as usual or mix them in something, but if we eat it properly, then it will give double benefits.

What to do for it

Put 4 to 8 raisins in a glass of water in the night before bedtime. Now eat it empty stomach in the morning and drink water. You will feel that raisin has done good work. So that is it for today. For more stay with us i will come back with new home remedy till then take care yourself. Namaste