जानिए चिकनगुनिया से बचने के आसान घरेलू नुस्खा

नीचे दिए गए वीडियो पर क्लिक कर के देखें।  chikungunya gharelu upchar





दोस्तों, वर्ष में चार प्रमुख मौसम होते है। गर्मी, बरसात, ठंडी और बसंत। हर एक ऋतू के आने-जाने से वातावरण में विशेष बदलाव देखने को मिलता है। जिससे मानव शरीर पर भी असर पड़ता है। हालांकि, ये बदलाव कभी खतरनाक तो कभी नार्मल रहता है। ऐसे में हमें संभल कर रहना चाहिए ताकि हमारा स्वास्थ सुरक्षित और तंदरुस्त रहे। chikungunya gharelu upchar

गर्मी का मौसम जाने के बाद बरसात का मौसम आ गया है। इस मौसम में नाना प्रकार की बीमारी फैलती है। जो समाज और स्वास्थ दोनों के लिए दुखदायी है। इस मौसम में होने वाली बीमारी मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया आदि प्रमुख है। आज हम आपको चिकनगुनिया रोग के लक्षण, उपचार और सावधानी के बारे में बताएँगे। chikungunya gharelu upchar

मिर्गी के रोगी आपके आस-पास है इलाज

चिकनगुनिया के मच्छर बरसात में पनपते है। ये अल्फावायरस के कारण होता है जोकि मच्छरों के काटने से शरीर में प्रवेश करता है। इसके लक्षण जोड़ों में दर्द, उलटी, जी मचलाना और बुखार है। ये लक्षण रोगी को मच्छर काटने के बारहवें दिन में उभरते है। हालांकि, डॉक्टरों के निर्देशानुसार दवाइयों लेने से इस रोग का इलाज हो जाता है लेकिन कुछेक घरेलु उपाय भी है। जिसके इस्तेमाल से आप चिकनगुनिया जैसे असधक रोग से बच सकते है। डॉक्टर भी घरेलु उपचार रेकमेंड करते है। chikungunya gharelu upchar

आइये जानते है चिकनगुनिया से बचने के घरेलु उपाय

गाय का दूध और अंगूर

यदि आप या आपके परिवार के किसी सदस्य को चिकनगुनिया रोग है तो आप गाय के गर्म दूध के साथ साथ अंगूर का सेवन करें। ऐसा करने से चिकनगुनिया के अल्फावायरस मरते है। chikungunya gharelu upchar




अजवायन और तुलसी

तुलसी एक गुणकारी पौधा है। जो औषधि का खान है। हर छोटे-बड़े बीमारी में तुलसी रामबाण पौधा है। चिकनगुनिया से बचने के लिए एक केतली में किशमिश, अजवायन, तुलसी के पत्ते और नीम की पत्तियों को उबाल लें। जब यह अच्छी तरह से पाक जाये तो इसे छान कर दिन में तीन बार पियें। chikungunya gharelu upchar

लहसुन और लौंग

सबसे पहले लहसुन का पेस्ट बना ले। अब एक कटोरी में लहसुन पेस्ट और लौंग का तेल मिला ले। जब यह अच्छी तरह से मिक्स हो जाये तो जोड़ों के दर्द पर लगाये। इसके इस्तेमाल से चिकनगुनिया के मरीजों को जोड़ों के दर्द से आराम मिलता है तथा शरीर का तापमान भी नियंत्रित रहता है। chikungunya gharelu upchar

गाजर

गाजर में विटामिन A प्रचुर मात्रा में होती है। जो आँखों की रौशनी के लिए फायदेमंद होता है। चिकनगुनिया के मरीजों को अधिक से अधिक गाजर खाना चाहिए। यह मरीज के प्रतिरोधक क्षमता को बढाती है और जोड़ों के दर्द में भी रहत देती है। chikungunya gharelu upchar

Domestic recipe is a channel that teaches you the natural way to become beautiful properties. Domestic recipe Channels fruit benefits, domestic and household tips about tips that I use tells you you can create beautiful and healthy health.